MBA पढ़ें. सफल होंगे – XIV

Self Employed

Espirit De’ Corps – टीम स्प्रिट 


A feeling of pride and mutual loyalty shared by the members of a group.

सिंपल शब्दों में इसे Team Spirit भी कह सकते हैं ।

सभी कर्मचारी आपस में मिलजुल कर काम करें, उनमें सद्भाव हो, मिठास हो, बात चीत हो, प्रेम हो. सभी एक दूसरे की बात को समझें व उनमें सामजंस्य हो. उनको मालूम हो कि उनका काम संस्था व समाज के लिए महत्वपूर्म हो. अच्छे काम को रिवॉर्ड मिले. कम अच्छे वाले को अच्छा बनाने का प्रयास हो. टीम मिलजुल कर उत्पादकता व गुणवत्ता बढ़ाने का प्रयास करे.

यह सिद्धांत कहां लागू हों ?

हर जगह लागू हो. कंपनी, उद्योग, व्यवसाय, दुकान, खेती, विद्यालय, ऑफिस, घर, … लगभग हर जगह.

क्या घरों में भी यह सिद्धांत लागू होता है?

जी हां, होता है.

क्या सफलता मिलेगी ?

जी, जरूर मिलेगी. मैनेजमेंट की इन बातों को अपनाइए. सफलता का #अरुणोदय होगा. आप सफल होंगे.

आप शिक्षा प्रसार में सहयोगी बनें

यह शिक्षा पोस्ट है. MBA के पहले विषय प्रिंसिपल ऑफ मैनेजमेंट (pom) का टॉपिक है. आप वही पढ़ रहे हैं जो IIM जैसे कॉलेज अपने स्टूडेंट को पढ़ाते हैं. जी हां, आप MBA कर रहे हैं. यह पोस्ट अपने भाई बहन मित्र व बच्चों को शेयर करें. पढ़ेगा इंडिया, तो बढ़ेगा इंडिया.


MBA हिंदी में भी पढ़ सकते हैं.

क्या यह आपको कठिन लगा. यदि नहीं, तो आप मेरी मानिए, आप MBA कर सकते हैं. अपने प्रोजेक्ट, बिजनेस, व्यापार, काम, ऑफिस को सफल बना सकते हैं. अच्छी नौकरी पा सकते हैं.

 MBA पढ़ें. सफल होंगे.

HELP ?

  • हम आपकी मदद करेंगे.
  • हम आपके strength, weakness, interest, dreams, skills आदि को समझेंगे
  • आपको सही कोर्स, सही कॉलेज व सही युनिवर्सिटी चुनने में हेल्प करेंगे.
  • आपको एडमिशन व कोर्स पूरा करने में गाइड करेंगे.
  • कोर्स पूरा होने पर प्लेसमेंट या नौकरी के लिए मदद करेंगे.
  • Contact us by email or sms or whatsapp or phone or contact form.

Visit contact page and call us or fill Inquiry form.


 

Counselor Arun Mishra


#MBA_POM 14