Home
बैचलर डिग्री क्या है
Self Employed

बैचलर डिग्री क्या है

इंडिया में बैचलर डिग्री को ग्रेजुएट डिग्री या ग्रेजुएशन समझा जाता है. In India Bachelor degree is understood as Graduate degree or Graduation.

10वीं यहां की बेसिक पढाई है जिसकी पूरे देश में लगभग एक जैसी मान्यता है. 10वीं स्टेट बोर्ड के आधीन है व हर स्टेट में एक दो सब्जेक्ट अलग हो सकते हैं, खासकर भाषा के सब्जेक्ट. बाकी विषय व उनका सिलेबस लगभग एक जैसा है. 10वीं के वक़्त विद्यार्थी कि उम्र लगभग 15 साल की होती है.

12वीं की पढाई भी स्टेट बोर्ड के आधीन है. सेंट्रल बोर्ड भी 12वीं कंडक्ट करता है. 10वीं के बाद कुछ लोग डिप्लोमा पढ़ते हैं, पर 90% लोग 12वीं करते हैं. इसमें अपनी रूचि के अनुसार विषय ले सकते हैं जैसे कि आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस आदि.

डिप्लोमा या  12वीं के बाद 3  साल का डिग्री कोर्स होता है. इसे बैचलर डिग्री कहते हैं. आप डिग्री आर्ट्स कॉमर्स या साइंस में कर सकते हैं. इसके अलावां आजकल अन्य विषय जैसे कि मैनेजमेंट, मीडिया व अन्य विशेष विषय में भी डिग्री कोर्स होते है. इंजीनियरिंग कोर्स 4 साल का है. मेडिकल य डॉक्टर का कोर्स 5 साल का है.

क्यों करे बैचलर डिग्री ?

बैचलर डिग्री आजकल हर कहीं नौकरी के लिए जरुरी हो गई है. कंपनी, इंडस्ट्री, बिज़नेस, ऑफिस, विदेश आदि कहीं भी आप को अच्छी नौकरी  चाहिए तो Bachelor degree जरुरी है.

बैचलर डिग्री किस विषय में करें ?

बैचलर डिग्री उसमे करें जिसमे आपकी रुचि हो. जिसमे आगे आपको नौकरी का अच्छा विकल्प दिखे. या जिसे करने के बाद आप स्वरोजगार कर सके.

कहाँ से करें ?

वहाँ से करें जहाँ सरकार मान्य डिग्री मिले. UGC मान्य हो. जहाँ फीस कम हो. और जिस कॉलेज का नाम अच्छा हो.

हम आपकी मदद कर सकते हैं ?

आप हमें फोन करें, sms करें, whatsapp करें, ईमेल करें. हम आपकी मदद करेंगे. आपको सही विषय चुनने में मदद करेंगे.  Contact पेज पर जाएं.

Share
Share